Bathu ki Ladi – Pratik Gandhi

2017 में Sunil सर के किसी article में दो जगह देखि पढ़ी थी जो पहले सुनी नहीं थी और जिनसे बहुत प्रभावित हुआ था में….एक थी डोडरा क्वार और दूसरी है बाथू की लड़ी…..जी हां हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में महाराणा […]

Read More

स्कूटर से भारत भ्रमण में मिले मोती – Geeta Jain

अचानक एक अनजान नंबर से वोट्स एप मेसेज आया, जो कि अखबार की कतरण थी, शिवपुरी के आदरणीय मोतीचंदजी को देखते ही प्रसन्नता हुई, पढ़ने पर जाना कि दादाजी ने 91 की उम्र में सवा लाख से अधिक णमोकार महामंत्र […]

Read More

तुंगनाथ यात्रा-Part #4 Arun Kuksal

….तुंगनाथ पैदल रास्ते की पहली दुकान पर हम पहुंच गए हैं। रास्ते के बांये ओर घने जंगल को उसकी सीमाओं से आगे बढ़ने से रोकता खूबसूरत बुग्याल ( ऐल्पाइन मेडोज- वृक्ष रेखा और हिम रेखा के बीच नर्म घास का […]

Read More

तुंगनाथ यात्रा-Part #3 Arun Kuksal

….दुग्गल बिट्टा से चोपता 7 किमी. है। पहाड़ की ऊंची चोटी से चोपता चुपचाप हमको देख रहा है कि, आज उसके पास कौन – कौन मेहमान आ रहे हैं। चोपता तक फैले घने जंगल में जगह – जगह घास के […]

Read More

तुंगनाथ यात्रा-Part #2 Arun Kuksal

4 अक्टूबर, 2020….गुप्तकाशी के सिरहाने पहुंचकर चांद, रात की यात्रा को पूरा करने ही वाला है। लगा, इंतजार में ठिठका हुआ है, हमारे दीदार करने। बहुत नजदीक, इतना नजदीक कि हाथ बड़ा कर छू लें। पूर्णमासी के तुरंत बाद का […]

Read More

तुंगनाथ यात्रा-Part #1 Arun Kuksal

3 अक्टूबर, 2020अक्सर आप धारीदेवी से आगे बढ़ते हैं तो कलियासौड़ लैंडस्लाइड पर बात शुरू हो जाती है। बचपन से हर एक ने इस जगह को ऐसा ही यह धंसते हुए देखा है। लेकिन अब इससे पहले ही अलकनंदा पर […]

Read More

तुंगनाथ (तृतीय केदार) यात्रा -Part #5 Atul Naithani

अब समय विदा लेने का था और उषा रानी हमें लुभाने के भरसक प्रयास में लगी रही। अब हम गंगा मैया को उषा रानी व मन को शांत कर देने वाली वायु बहन के साथ छोड़ आए। तुंगनाथ में भोर […]

Read More

तुंगनाथ (तृतीय केदार) यात्रा -Part #4 Atul Naithani

कल मन्दिर के पंडित जी ने बोला था चंद्रशिला जाओगे तो साक्षात शिव के रूप की अनुभूति हो जाएगी। ये वाक्य जब भी नींद खुलती तब यही याद आता। प्रातः 3 बजे बर्फीली हवाओं के बीच उठ गए। तैयार होकर […]

Read More

तुंगनाथ (तृतीय केदार) यात्रा -Part #3 Atul Naithani

चोपता आते ही हम लोग उतर गए। एक तरफ रोड से लगी दुकानें तो दूसरी तरफ घास का बड़ा सा पर्वत था। तुंगनाथ के रास्ते के दर्शन नहीं हुए थे । पूछने में पता चला हम दो मोड़ पहले उतर […]

Read More

तुंगनाथ (तृतीय केदार) यात्रा -Part #2 Atul Naithani

वैसे तो हमारा विचार था कि 16JUNE2017 आज ही सारी गांव पहुंच जाते तो अगली सुबह देवरिया ताल से तुंगनाथ के लिए पैदल ऊपर ऊपर ट्रेकिंग करते जो कि लगभग 14-16km. की है । अगली सुबह मन्दाकिनी के शोर में […]

Read More